Children’s Day: गूगल ने बाल दिवस पर बनाया डूडल

By | November 14, 2019

सर्च इंजन गूगल ने गुरुवार को एक रंगीन डूडल के साथ 2019 बाल दिवस को चिह्नित किया। भारत 14 नवंबर को बाल दिवस के रूप में मनाता है, जो देश के पूर्व प्रधान मंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू को चिह्नित करता है।

बाल दिवस पर गूगल 2009 से एक ‘Doodle 4 Google’ नाम से एक प्रतियोगिता का आयोजन करता है और बेस्ट डूडल इसके होम पेज पर दिखता है।  इस वर्ष डूडल प्रतियोगिता की थीम ‘When I grow up, I hope…’ (जब मैं बड़ा हूं तो मैं आशा करूं….।) रखी गई थी। इस बाल दिवस की प्रतियोगिता में गूगल को 1.1 लाख एंट्रीज़ मिली, ये सभी चित्र 1 से 5 तक की कक्षा वाले बच्चों ने बनाए थे, जिसमें दिव्यांशी सिंघल की इस पेंटिंग को चुना गया।

आपको बता दें, ये गूगल डूडल गुरुग्राम की दूसरी क्लास में पढ़ने वाली सात साल की लड़की दिव्यांशी सिंघल ने बनाया है। दिव्यांशी ने इस तस्वीर में पेड़-पौधों को चलते हुए दिखाया है और नाम दिया है ‘वॉकिंग ट्री’।

यूनाइटेड नेशंस की ओर से तय किए गए यूनिवर्सल चिल्ड्रेन्स डे के हिसाब से पहले बाल दिवस 20 नवंबर को मनाया जाता था।

Video Download Kare

लेकिन, 1964 में पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की मृत्यु के बाद उनको सम्मानित करने के लिए सर्वसम्मति से संसद में एक प्रस्ताव पारित किया गया। बच्चों से उनके लगाव के चलते उनका जन्मदिन राष्ट्रीय बाल दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इसलिए, प्रत्येक वर्ष तब से 14 नवंबर को भारत में बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है ताकि देश के पहले पीएम की जयंती मनाई जा सके। जवाहर लाल नेहरू का जन्म 14 नवंबर1889 को इलाहाबाद में हुआ था।

नेहरू को चाचा कहा जाने की लोकप्रिय कहानियाँ हैं। ऐसा माना जाता है कि वह बच्चों के शौकीन थे और बच्चों से अपार स्नेह से मिलते थे। बच्चों के प्रति उनके दोस्ताना रवैये के कारण बच्चे उन्हें चाचा कहकर पुकारते थे। बच्चों से उनका प्यार कई मौकों पर दिखता रहा है और अक्सर काम के बीच भी वे बच्चों को कहानियां सुनाने बैठ जाते थे।

Click Here More Details

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *